Friday , April 19 2019
Loading...

एडीआर ने इस चरण के 1644 में से 1590 प्रत्याशियों के शपथपत्र के आधार पर तैयार की यह रिपोर्ट

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में उतरे 1590 में से 251 प्रत्याशियों पर आपराधिक केस दर्ज हैं. 167 पर जघन्य अपराधों के मामले हैं. इस मामले में सबसे आगे डीएमके है, जिसके 46 फीसदी उम्मीदवार दागी हैं. कांग्रेस पार्टी के 43 प्रतिशत, शिव सेना के 36  बीजेपी 31 फीसदी प्रत्याशी दागी हैं. वहीं, दूसरे दौर में 423 प्रत्याशी करोड़पति हैं. इस दौर की कुल 97 सीटों में से 41 पर रेड अलर्ट है. ये ऐसी सीटें जहां तीन या उससे अधिक प्रत्याशियों पर आपराधिक केस हैं. एडीआर ने इस चरण के 1644 में से 1590 प्रत्याशियों के शपथपत्र के आधार पर यह रिपोर्ट तैयार की. इनमें 209 राष्ट्रीय दलों, 107 प्रदेश स्तरीय पार्टियों, 386 पंजीकृत पार्टियों से तथा 888 निर्दलीय हैं.

अपराध की प्रकृति प्रत्याशी
जघन्य क्राइम 167
दोषी करार 03
मर्डर के आरोपी  06
मर्डर का कोशिश 25
अपहरण 08
स्त्रियों से अपराध  10
भड़काऊ भाषण  15
कुल अापराधिक केस  251

किस पार्टी से कितने अपराधी-आरोपी

पार्टी               प्रत्याशी  दागी  गंभीर केस
कांग्रेस पार्टी               53       23      17
बीजेपी               51       16      10
बीएसपी                80       16       10
डीएमके              24       11       1
एआईएडीएमके     22       03      03
शिव सेना            11        03      01

आर्थिक हैसियत

कुल 423 यानी 27% प्रत्याशी जहां करोड़पति हैं तो वहीं यह भी सामने आया कि 647 यानी 41 फीसदी की कुल संपत्ति 10 लाख रुपये से कम है. लेकिन जो धनी हैं, वे इतने धनी हैं कि 10 लाख से कम संपत्ति वाले प्रत्याशियों की संख्या अधिक होते हुए भी समस्त प्रत्याशियों की कुल औसत संपत्ति 3.9 करोड़ हो जाती है.

कुल संपत्ति            प्रत्याशी  प्रतिशत
पांच करोड़                 176        11
दो-पांच करोड़            108        07
50 लाख-दो करोड़     276         17
10 लाख -50 लाख    383       24
10 लाख-कम            647       41

सबसे ज्यादा धनी प्रत्याशी कांग्रेस 
पार्टियों में सबसे अधिक कांग्रेेस के प्रत्याशी थे, जिनकी औसत संपत्ति 31.83 करोड़ थी, वहीं बीएसपी के प्रत्याशियों की औसत संपत्ति सबसे कम 1.94 करोड़ ही थी. यह समस्त प्रत्याशियाें के कुल औसत से भी कम था.

तीनों सबसे धनी प्रत्याशी कांग्रेस पार्टी के
कन्याकुमारी से कांग्रेस पार्टी प्रत्याशी एच वसंथकुमार सबसे धनी प्रत्याशी हैं, उन पर देनदानियां भी सबसे अधिक थी. उन्होंने 2017-18 में अपनी आय 28.93 करोड़, हासन से बीजेपी प्रत्याशी ए मंजू ने 14.24 करोड़ और बीएसपी से अमरावती प्रत्याशी अरुण मोतीराम की आय 7.03 करोड़ थी. 919 ने वार्षिक आय नहीं बताई. 52 प्रत्याशी जिनकी वार्षिक आय एक करोड़ से अधिक थी, उन्हाेंने अपनी इनकम टैक्स डीटेल नहीं बताई. इनमें प बंगाल के रायगंज से निर्दलीय प्रत्याशी बिनोय दास, बेंगलुरु सेंट्रल से निर्दलीय प्रत्याशी सीबीके रामा, बेंगलुरु दक्षिण से केसीवीपी पार्टी के वतल नागराज शामिल थे, जिनकी कुल संपत्ति क्रमश: 18.87 करोड़, 15.23 करोड़  6.55 करोड़ थी.

पार्टी                करोड़पति   औसत संपत्ति
कांग्रेस पार्टी                  46           31.83 करोड़
बीजेपी                 23           21.59 करोड़
डीएमके                23           5.91 करोड़
एआईएडीएमके     21          14.27 करोड़
बीएसपी                    21          1.94

भाजपा की मथुरा से प्रत्याशी हेमा मालिनी सबसे धनी प्रत्याशियों की सूची में चौथे जगह पर रहीं. उनकी कुल संपत्ति 250.82 करोड़ रुपये सामने आई.

पार्टी             प्रत्याशी            सीट                 संपत्ति            देनदारी
कांग्रेस पार्टी        एच वसंथकुमार    कन्याकुमारी         417.49        154.75
कांग्रेस पार्टी          उदय सिंह            पूर्णिया               341.86         71.57
कांग्रेस पार्टी          डीके सुरेश           बंगलूरू ग्रामीण     338.89        51.93
बीजेपी         हेमा मालिनी         मथुरा                   250.80       13.12
राशि करोड़ रुपये में

कांग्रेस के जॉर्ज टिर्की पर सबसे अधिक 41 केस
ओडिशा में सुंदरगढ़ से कांग्रेस पार्टी प्रत्याशी जॉर्ज टिर्की पर सर्वाधिक 41 केस हैं. इनमें 9 मर्डर के प्रयास, छह हमला करने, चार सरकारी अधिकारियों पर हमले, एक डकैती, शामिल हैं. बुलंदशहर से बीएसपी प्रत्याशी योगेश वर्मा पर 28 केस हैं. इनमें 64 धाराएं गंभीर अपराधों की हैं. उन पर मर्डर के कोशिश के 13 मामले  डकैती के सात मामले हैं.

सबसे ज्यादा दागी तमिलनाडु में
सबसे अधिक 101 दागी प्रत्याशी तमिलनाडु में सामने आए हैं. हालांकि इसकी वजह यहां सबसे अधिक प्रत्याशी होना भी रहीं. फीसदी में यह संख्या 13 फीसदी थी. फीसदी के मामले में बिहार और प बंगाल सबसे आगे रहे जहां यह आंकड़ा 31-31 फीसदी रहा.

केवल आठ फीसदी महिलाएं
120 यानी केवल आठ फीसदी महिला प्रत्याशी दूसरे चरण में मैदान में हैं. सभी प्रत्याशियों में 525 की आयु 25 से 40 साल, 805 की 41 से 60 वर्ष  246 की 61 से 80 वर्ष है. 7 प्रत्याशी 80 साल से अधिक आयु के थे.

छह प्रत्याशियों ने आयु नहीं बताई तो एक प्रत्याशी ने खुद को 24 वर्ष का बताया.

संपत्ति  केवल नौ रुपये 
सोलापुर से भारत जनता पार्टी के शिव वेंकटेश्वर ने बताया कि उनकी संपत्ति केवल नौ रुपये है. वे सबसे गरीब प्रत्याशी हैं. मईलादुथुरई के दो निर्दलीय प्रत्याशी राजेश पी और राजा एन की संपत्ति 100 रुपये है. 17 प्रत्याशी ऐसे हैं जिन्होंने संपत्ति शून्य बताई.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *