Thursday , May 23 2019
Loading...
Breaking News

आतंकवादी मसूद अज़हर पर हिंदुस्तान करेगा कार्यवाही

भारत ने पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले को जघन्य  घिनौना बताते हुए इसके लिए सीधे तौर पर पाक को जिम्मेदार ठहराया है. हिंदुस्तान ने पाक से आतंकियों को समर्थन देना बंद करने के लिए भी बोला है. वुहान समिट के बाद जैश के मुखिया मसूद अजहर पर एक साल तक शांत रहे हिंदुस्तान का रवैया अब बदल सकता है. इस आतंकवादी हमले के बाद संयुक्त देश सुरक्षा परिषद द्वारा मसूद अजहर पर आतंकवाद निरोधक प्रतिबंध लगाने के लिए हिंदुस्तान ने अंतर्राष्ट्रीययोगदान मांगा है.

उल्लेखनीय है कि गुरुवार को हुए पुलवामा हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) के 44 जवान शहीद हो गए हैं. आज इसी मामले पर सुरक्षा पर कैबिनट कमिटी (CCS) की मीटिंग होने वाली है.उधर, संयुक्त देश प्रतिबंधों के तहत मसूद अजहर पर प्रतिबन्ध लगाने के हिंदुस्तान के प्रयासों को चाइना लगातार विफल करता आया है. दरअसल, चाइना अपने सहयोगी मुल्क पाक के हितों की रक्षा करना चाहता है. इस बीच इंडियन विदेश मंत्रालय ने बोला है कि, ‘सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में सभी जरुरी कदम उठाने के लिए दृढ़  प्रतिबद्ध है. हम आतंक के विरूद्ध लड़ने के लिए भी समान रूप से प्रतिबद्ध हैं.

हमले में शामिल लोकल कश्मीरी आतंकवादी का विडियो सामने आने के बाद भी हिंदुस्तान ने इसके लिए पाक को जिम्मेदार ठहराया है. हिंदुस्तान ने साफ लफ़्ज़ों में बोला है कि, ‘हम पाक से मांग करते हैं कि वो आतंकवादियों का समर्थन करना बंद करे  आतंकवादी संगठनों के ठिकानों को ख़त्म करे, जो दूसरे राष्ट्रों में हमले करते हैं.‘ हिंदुस्तान गवर्नमेंट ने तीखते लहजे में बोला है कि पाक स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा यह हमला किया गया है, जिसे संयुक्त देश  दूसरे राष्ट्रों के द्वारा आतंकवादी संगठन घोषित करते हुए प्रतिबंधित किया गया है. हमले में पाक की किरदार को स्पष्ट करते हुए हिंदुस्तान गवर्नमेंट ने बोला है कि, ‘इस आतंकवादी संगठन का मुखियाअंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी मसूद अजहर है, जिसे पाक की गवर्नमेंट ने अपने मुल्क में पूरी आजादी दी हुई है. इस वजह से वोलगातार अपने आतंकवादी कुनबे को बढ़ाता जा रहा है.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *