Tuesday , December 18 2018
Loading...

वैश्विक प्रयत्न ने कहा- हर 70वें आदमी को है मदद की जरूरत

संयुक्त देश राहत प्रमुख ने बोला है कि संसार के विभिन्न हिस्सों में चल रहे संघर्षों ने लाखों लोगों को ऐसी स्थिति में पहुंचा दिया है जहां उन्हें तत्काल मदद की आवश्यकता है साथ ही उन्होंने 40 से अधिक राष्ट्रों में अगले वर्ष अत्यावश्यक राहत परियोजनाओं में योगदान की खातिर खज़ाना जुटाने की अपील भी की यह खज़ाना 25 अरब डॉलर से अधिक हो सकता हैImage result for वैश्विक प्रयत्न

Loading...

वैश्विक मानवीय जरूरत के सालाना विश्लेषण जारी किए जाने के मौके पर, आपदा राहत समन्वयक मार्क लोकॉक ने बोला कि विश्व भर में 40 से अधिक राष्ट्रों में चल रहे संघर्षों को देखते हुये अगले वर्ष 13 करोड़ से अधिक लोगों को मदद पहुंचाये जाने की जरूरत होगी यानी मोटे तौर पर संसार के हर 70वें आदमी को मानवीय सहायता देनी होगी

loading...

उन्होंने बोला कि संघर्षों के साथ साथ मौसम में आ रहे बदलावों की वजह से पड़ने वाले सूखे  तूफान जैसी प्राकृतिक आपदाओं के चलते भी लोगों को कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है

लोकॉक ने बोला कि संसार के हर 70 में से एक आदमी को संकटों का सामना करना पड़ रहा है  उसे तुरंत ही मानवीय मदद  संरक्षण देने की आवश्यकता है उन्होंने बोला कि बड़ी संख्या में लोग विस्थापित भी हुए हैं जिसका मुख्य कारण प्रयत्न है विस्थापितों की संख्या लगभग सात करोड़ है यह स्थिति पहले कभी नहीं देखी गई उन्होंने बोला कि संयुक्त देशकी वैश्विक मानवीय सहायता अपील वर्ष 2019 में 21.9 अरब डालर है लेकिन अगर इसमें सीरिया की वित्तीय मदद को जोड़ लिया जाता है तो यह राशि 25 अरब डालर तक पहुंच सकती है

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *