Wednesday , January 16 2019
Loading...

राम मंदिर निर्माण की मांग पर अड़ा संत समुदाय

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर सियासत लगातार गर्माती जा रहा है, इस मामले पर जबसे सुप्रीम न्यायालय ने तारीख को टाला है उसके बाद एक-एक करके सियासी बयानबाजी सामने आ रही है इसमे सबसे आगे बीजेपी के नेता, मंत्री, आरएसएस के नेता शामिल हैं राम मंदिर निर्माण में हो रही देरी से संत समाज भी ख़ासा ख़फ़ा है, उसने साफ बोला है कि राम मंदिर निर्माण में देरी मंजूर नहीं है संत समाज ने केद्र गवर्नमेंट से अपील की है कि वह राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाएRelated image

Loading...

हालांकि उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ ने खुद बोला है कि जल्द ही राम मंदिर का निर्माण काम प्रारम्भ होगा यही नहीं उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने भी इसी बात को दोहराते हुए बोला कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनेगा लेकिन इन सब के बावजूद संत समाज इस बात को लेकर नाराज है कि CM योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर निर्माण को लेकर किसी तरह का ठोस आश्वासन नहीं दिया है रामजन्मभूमि के मुख्य पुजारी महंत सत्येंद्र दास ने बोला कि हम CM के इस निर्णय का स्वागत करते हैं कि उन्होंने फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया है, लेकिन हमें अपेक्षा थी कि संसद में कानून लाकर राम मंदिर निर्माण का ऐलान किया जाएगा

loading...

उन्होंने बोला कि केंद्र गवर्नमेंट को तत्काल राम मंदिर निर्माण के लिए कानून लाना चाहिए वहीं महंत परमहंस ने बोला कि फैजाबाद का नाम बदल दिया गया,इलाहबाद का अनाम बदल दिया गया, लेकिन अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के वायदे का क्या हुआ, जिस वायदे के साथ बीजेपी सत्ता में आई थी CM ने अपने सम्बोधन में राम मंदिर का जिक्र भी नहीं किया उन्होंने धमकी देते हुए बोला कि अगर राम मंदिर निर्माण की तारीख का 6 दिसंबर तक ऐलान नहीं किया जाता है तो मैं खुद को आग के हवाले कर दूंगा

 

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *